Connect with us

धर्म

रमज़ान में भारत के मुसलमानों के लिए गाइडलाइन

Published

on

रमज़ान भारत में 23 या 24 अप्रैल से शुरू होगा और एक महीने चलेगा. इसके बाद ईद का त्योहार मनाया जाता है जिसमें आमतौर पर लोग एक दूसरे के घर जाते हैं और गले मिलते हैं.

कोरोना के चलते भारत में लॉकडाउन है और देश भर की मस्जिदें बंद हैं

सऊदी अरब ने भी अपनी मस्जिदें बंद कर दीं, जिनमें दुनिया की सबसे पवित्र कही जाने वाली मक्का की मस्जिद भी शामिल है.

ईरान की इस्लामी सरकार ने कहा है कि अगर मुसलमान लॉकडाउन के कारण रमज़ान में रोज़े न रखना चाहें तो कोई हर्ज नहीं.

उधर भारत के ज़िम्मेदार मुसलमानों ने भी रमज़ान के महीने में लोगों से मस्जिद जा कर नमाज़ न पढ़ने की सलाह दी है.

लेकिन पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के इमामों और मौलवियों ने अपनी सरकार के ख़िलाफ़ बग़ावत कर दी और मौलवियों की एक काउन्सिल ने घोषणा की है कि मुसलमान रमज़ान के महीने में मस्जिदों में जाकर नमाज़ अदा करेंगे.

रमज़ान के लिए गाइडलाइन

भारत के बुद्धिजीवियों ने मौलवियों से सलाह करके भारतीय मुसलमानों के लिए कुछ गाइडलाइंस जारी की हैं, जिनमें से ख़ास ये हैं:

– मस्जिदों के बजाय मुसलमान अपने घरों में नमाज़ पढ़ें और लॉकडाउन में मस्जिदों से लाउडस्पीकर से अज़ान भी बंद कर दें.

– रोज़ा खोलने के बाद रात में पढ़ी जाने वाली नमाज़ और तरावीह (रोज़ा खोलने के बाद की एक अहम नमाज़) भी घरों में पढ़ें

– मस्जिदों में इफ़्तार पार्टी का आयोजन न करें

– रमज़ान की ख़रीदारी के लिए घरों से बाहर न निकलें

रमज़ान

आगे हैं चुनौतियां…

इसके अलावा देश भर की कई मस्जिदों से भी रमज़ान के महीने में लॉकडाउन का पालन करने की घोषणा की जा रही है.

दिल्ली के महारानी बाग़ इलाक़े में एक पुरानी मस्जिद है जिसके गेट पर ताला पड़ा है. इसकी देख-रेख करने वाले मुइनुल हक़ ने कहा कि मस्जिद बंद ज़रूर है लेकिन पाँचों वक़्त लाउडस्पीकर से अज़ान होती है जिसमें रमज़ान में नमाज़ घर पर पढ़ने की अपील की जा रही है.

मुसलमानों ने रमज़ान की तैयारियां शुरू कर दी हैं. लेकिन लोगों से बातें करके लगता है कि इस लॉकडाउन में वो खान-पान के बजाय रूहानी तैयारी में जुटे हैं.

हैदराबाद के एक व्यापारी फ़रीद इक़बाक के अनुसार ये समय मस्जिदों में भीड़ लगाने का नहीं है. ये लॉकडाउन हमें एक मौक़ा दे रही है घरों में पूरे ध्यान के साथ इबादत करने की.

रमज़ान का महीना भारतीय मुसलमानों के लिए एक बड़ी चुनौती होगी. ये मुसलमानों का सबसे पवित्र महीना है जिसके दौरान 30 दिनों तक मुसलमान मस्जिदों में नमाज़ और क़ुरान साथ पढ़ते हैं.

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एस वाई क़ुरैशी कहते हैं, “जो लोग आम दिनों में मस्जिदों में नहीं जाते, वो रमज़ान में ऐसा करते हैं. उन्हें लगता है कि इस मुबारक महीने में मस्जिद नहीं गए तो गुनाह होगा. इन गाइडलाइंस से उन्हें ये समझाने की कोशिश की गई है कि अगर मक्का (सऊदी अरब) में कुछ दिनों के लिए ताला लग सकता है, तो इसके सामने मस्जिद तो छोटी सी चीज़ है.”

रमज़ान

लॉकडाउन था तो गाइडलाइन क्यों?

मेरठ की एक मस्जिद के एक इमाम नजीब आलम के अनुसार रमज़ान इबादत का महीना है. इबादत घरों में भी की जा सकती है. लेकिन इस महीने में मस्जिदें ज़्यादा आबाद रहती हैं.

यूँ तो ये चुनौती दुनिया के हर उस मुस्लिम समुदाय के लिए है जहाँ लॉकडाउन लागू है लेकिन भारत के मुसलमानों और धर्म गुरुओं ने गाइडलाइन्स जारी करके इस बात को निश्चित करना चाहा है कि मुसलमान लॉकडाउन का पालन करें.

भारतीय अल्पसंख्यक आर्थिक विकास एजेंसी के अध्यक्ष एम जे ख़ान के कहा, “ये एक बहुत ही सराहनीय क़दम है और ये दर्शाता है कि कोरोनो वायरस फ़ैलने से बचाने के लिए समुदाय के नेता सार्थक क़दम उठा रहे हैं.”

हाल में दिल्ली के निज़ामुद्दीन इलाके में तब्लीग़ी जमात की धार्मिक सभा के दौरान हज़ारों लोग जुटे थे और इनमें से कई लोगों में कोरोना के मामले पाए गए थे.

इसके बाद मीडिया और सोशल मीडिया में भारत में फैल रहे कोरोना वायरस के मामलों का ज़िम्मेदार मुस्लिम समुदाय को ठहराया जाने लगा. जगह-जगह मुसलमानों के ख़िलाफ़ भेदभाव की शिकायतें आईं.

दिल्ली में मुसलमानों की संस्था इंडियन मुस्लिम्स फॉर इंडिया फ़र्स्ट ने मौलवियों-इमामों की निगरानी में ये गाइडलाइंस तैयार की हैं.

इस मुस्लिम संस्था के एक प्रसिद्ध सदस्य और आयकर विभाग के पूर्व कमिश्नर सैयद ज़फ़र महमूद कहते हैं, “भेदभाव करना इंसान की फ़ितरत में है. हाँ, मुसलमानों के साथ (कोरोना वायरस के फ़ैलाव को लेकर) भेदभाव हुआ है. हम सब को इस पर काबू पाने की ज़रूरत है और मुझे लगता है ये एक वक़्ती चीज़ है

देर से आया सरकार की ओर से बयान

मुस्लिम समुदाय काफ़ी सतर्क है. समुदाय के अंदर आम राय ये है कि तब्लीग़ी जमात ने इज्तेमा (धर्म सम्मलेन) का आयोजन करके एक भारी ग़लती की लेकिन इसको बहाना बनाकर पूरे समाज को बदनाम करने की कोशिश की गई है. वे इस बात पर हैरान हैं कि सरकारी तौर पर इसकी निंदा नहीं की गई.

शुरू में इस पर सरकारी बयान नहीं आया. लेकिन बाद में भारत सरकार ने एक बयान में कहा कि मुसलमानों को टारगेट न किया जाए.

और अब रविवार को ख़ुद प्रधानमंत्री मोदी ने यह बयान दिया कि “कोविड-19 जाति, धर्म, रंग, जाति, पंथ, भाषा या सीमाओं को नहीं देखता. इसलिए हमारी प्रतिक्रिया और आचरण में एकता और भाईचारे को प्रधानता दी जानी चाहिए. इस परिस्थिति में हम एक साथ हैं.”

इसके अलावा कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कोरोना को लेकर मुसलमानों को बदनाम करने वालों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की घोषणा भी की.

Facebook Comments

Advertisement

Corona Updates

लुधियाना न्यूज़8 hours ago

आज लक्षमी लेडीस क्लब की तरफ से डेंटल केयर पर लाइव सेशन करवाया गया

आज लक्षमी लेडीस क्लब की तरफ से डेंटल केयर पर लाइव सेशन करवाया लगाया, जिसमे प्रेजिडेंट, नीरू वर्मा ने सभी...

खेल1 week ago

फसल देख खुशी से नाचने लगा किसान, Video देख आप भी खिल उठेंगे

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें एक किसान खेत में काम करते-करते...

कोरोना वायरस1 week ago

हिमाचल में अब इस तरह मिलेगी एंट्री, सरकार ने जारी की अधिसूचना

हिमाचल सरकार ने 176 दिन के लंबे अंतराल के बाद अंतर्राज्यीय आवाजाही पर लगा प्रतिबंध हटा दिया है। मंत्रिमंडल की...

लुधियाना सिटी न्यूज़1 week ago

शिमलापुरी में लुटेरों को देख भौंकने लगा कुत्ता, दात से वार कर किया घायल

शिमला पुरी की गली नंबर 4 निवासी ज्वेलर के घर में चोरी की नीयत से घुसे चोरों को देख कर...

पंजाब1 week ago

कैप्‍टन सरकार का फैसलाः आंदोलनकारी किसानों पर दर्ज FIR ली गई वापस

मुख्यमंत्री  कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने आंदोलन कर रहे किसानों के खिलाफ दर्ज केस वापस लेने की घोषणा की है। इसके...

देश1 week ago

दिल्ली में चोरी हुए के 76 CCTV कैमरे, केजरीवाल सरकार ने उठाया यह कदम

महिला सुरक्षा के मद्देनजर पूरी दिल्ली में पहले चरण में लगाए गए 1 लाख 31 हजार सीसीटीवी कैमरे खुद ही...

देश1 week ago

एयर इंडिया पर सरकार के हाथ खड़े, कहा- बेचने या बंद करने के अलावा कोई चारा नहीं

कर्ज में डूबी सरकारी एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया को लेकर सरकार ने हाथ खड़े कर दिए हैं। सिविल एविएशन मिनिस्टर...

MC Ludhiana MC Ludhiana
लुधियाना सिटी न्यूज़1 week ago

लुधियाना नगर निगम वसूलेगा बेहड़ा मालिकों से पानी-सीवरेज का बिल

शहर में जैसे-जैसे उद्योगों का विकास हुआ और अन्य राज्यों से लोग काम करने के लिए आए, वैसे-वैसे बेहड़ा उद्योग...

देश1 week ago

सालों बाद घर पधारे राम, लक्ष्मण और सीता, लंदन ने चुराई मूर्तियां भारत को सौंपी

तमिलनाडु के एक मंदिर से दशकों पहले चुराई गई भगवान राम, लक्ष्मण और सीता की मूर्तियों को मंगलवार को भारत...

देश1 week ago

राहल गांधी बोले- देश में आए संकट पर मोदी सरकार ने पकाए ख़याली पुलाव

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भाजपा सरकार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते। चीन के साथ भारत...

अपराध1 week ago

माछीवाड़ा साहिब में घर की दीवार तोड़ घर में दाखिल हुए चोर, लाखों के गहने और नकदी चोरी

माछीवाड़ा साहिब के नजदीकी गांव के बोहापुर के गुज्जरों के डेरे से बीती रात चोरों ने दीवारों को फाड़ कर...

कोरोना वायरस1 week ago

लुधियाना में घर-घर जाकर ऑक्सीमीटर बांटेंगे आप कार्यकर्ता, कोरोना के खिलाफ करेंगे जागरूक

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल की घोषणा के बाद आप कार्यकर्ताओं ने विधानसभा हलका...

Rape Rape
अपराध1 week ago

3 साल की बच्ची से हैवानियत सारी हदें पार, हालत देख डॉक्टर भी रह गए हैरान

अमृतसर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है, जहां 3 साल की बच्ची से रेप किया गया। थाना...

देश1 week ago

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने दरभंगा में नए AIIMS के प्रस्ताव को दी मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बिहार के दरभंगा में एक नया अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी...

Theft Case Theft Case
पंजाब1 week ago

लुधियाना में घर के ताले तोड़ नकदी और सामान ले गए चोर

भामियां स्थित बाबा दीप सिंह नगर में चोरों ने एक घर के ताले तोड़ अंदर से नकदी और सामान चोरी...

Trending