Connect with us

दुर्घटना

एक CM की गलती और दूसरे CM के “चलता है” के रवैये की वजह से हुआ विशाखापट्टनम में इतना बड़ा हादसा

Published

on

हाल ही में आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम स्थित एलजी पॉलीमर कंपनी के प्लांट से गैस रिसाव के कारण कई लोगों की जान गयी, कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए, इन सबका कारण था ”लापरवाही”।

इस घटना के बाद एनजीटी ने संज्ञान लेते हुए एलजी पॉलिमर्स को 50 करोड़ रुपए जमा करने का निर्देश दिए हैं और इस लापरवाही की जांच की बात कही है साथ ही राज्य सरकार भी स्पेशल जांच की बात कर रही है।

इस बीच आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एलजी पॉलीमर कंपनी की फैक्ट्री से गैस रिसाव के हादसे को लेकर पूर्व वरिष्ठ नौकरशाह डॉ. ईएएस सरमा ने मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी को चिट्ठी लिखकर एक बड़ा खुलासा किया है, उनका कहना है कि इस हादसे के लिए फैक्ट्री मैनेजमेंट के साथ प्रशासन भी समान रूप से जिम्मेदार है। उनका कहना है कि इस कोरियाई कंपनी के मैनेजमेंट के साथ स्थानीय नेताओं एवं अधिकारियों की अच्छी सांठगांठ है और जिसकी वजह से खराब ट्रैक रिकॉर्ड वाले वाले इस फैक्ट्री के काम को रोका नहीं गया।

18 सितंबर 2018 को एक बार पर्यावरण मामलों पर नजर रखने वाली संस्था SEIAA ने एलजी पॉलीमर पर कुछ सवाल उठा कर जवाब जरूर मांगा पर पहले एलजी पॉलीमर कंपनी ने उसे नजरअंदाज किया और फिर बाद में 9 महीने बाद उन्हें जवाब देते हुए कम्पनी ने स्वीकार किया कि उसने 2006 में बनाये गए पर्यावरण सम्बंधी नियमो का पालन नहीं किया था फिर भी प्रशासन से मिलीभगत कर उस बात को जल्दी ही रफा दफा कर दिया गया।

उसके बाद Andhra Pradesh (आंध्र प्रदेश) प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की हरी झंडी लेकर 2019 में इसका विस्तार भी हुआ। उस समय राज्य में चंद्रबाबू नायडू की सरकार थी और फिर वो नियमों की अनदेखी का सिलसिला सरकार बदलने के बाद जब जगन मोहन रेड्डी मुख्यमंत्री बने तब भी जारी रहा।

नियमों के अनुसार ऐसी कोई भी कंपनी रिहायशी इलाकों में नहीं रह सकती पर उस नियम का पालन नहीं किया गया। ये फैक्ट्री रिहायशी इलाके के काफी पास में थी और प्लास्टिक बनाने वाली एलजी पॉलीमर कंपनी को लाइसेंस देने के लिए सारे नियमों को ताक पर रख इसे आवश्यक उद्योग बताया गया।

पूर्व वरिष्ठ नौकरशाह डॉ. ईएएस सरमा ने मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी को चिट्ठी लिखकर बताया है कि इस कम्पनी को केंद्र एवं राज्य दोनों की मंजूरी नहीं थी फिर भी, एलजी पॉलीमर सुचारू रूप से अपने प्लांट को चला रही थी जो कि बिना किसी बड़े नेता-अफसर के मिलीभगत के सम्भव नहीं है। उन्होंने बताया कि इस कम्पनी तथा वहां आसपास के कई कम्पनियों से इस तरह के गैस लीक की छिटपुट घटनाएं पहले भी होती रही है, फिर भी पहले चन्द्रबाबू नायडू सरकार और उसके बाद जगन मोहन रेड्डी सरकार सोती रही। 40 के आसपास ऐसे घटनाओं के बावजूद न किसी फैक्ट्री मैनेजमेंट के खिलाफ कोई कार्यवाही हुई न ही किसी अफसर या नेता को जेल हुआ।

भोपाल त्रासदी के बाद केंद्र से लेकर राज्य सरकारों तक को इस तरह के केमिकल कारखानों को लेकर काफी संवेदनशीलता बरतने का निर्देश था। ऐसे मामलों में किसी भी तरह के नियमों की अनदेखी न हो और समय-समय पर सरकार ऐसी कम्पनियों का रिव्यू होता रहे ये सुनिश्चित करना राज्य सरकार की जिम्मेदारी थी। पर ऐसा न चन्द्रबाबू के समय हुआ न ही जगनमोहन के समय हुआ।

ऐसे में सवाल ये उठता है कि जो जानें गईं हैं उसका जिम्मेदार कौन है? जांच के बाद कुछ सच्चाई सामने आयगी कुछ के खिलाफ कार्रवाई होगी पर जिनकी मौतें हुई उनके परिजनों को क्या मिलेगा? क्या ये सिस्टम उनके परिजनों को वापस दिला पायेगा? क्यों हम हर घटना के घटने के बाद उसकी जांच में जुट जाते हैं पर समय रहते उसे रोक नहीं पाते? सवाल अफसरों एवं नेताओ दोनों से है क्योंकि कहीं न कहीं इन मौतों के लिए दोनो समान रूप से जिम्मेदार हैं। एक तरफ चंद्रबाबू नायडू ने इस प्लांट को नियमों की ताक पर बड़ी गलती की तो दूसरी तरफ जगन मोहन रेड्डी ने इसे चलने दिया। इसपर यदि उन्होंने जरा भी ध्यान दिया होता तो शायद विषखापट्नम में गैस का रिसाव न हुआ होता और ही लोग इससे प्रभावित होते।

फिलहाल सभी सरकारों को ये सुनिश्चित करना चाहिए की ऐसी घटनाएं दुबारा न घटे,चन्द पैसों के लिए हजारों जान के साथ खिलवाड़ न हो पाए और साथ ही एक सख्त कानून लाकर दोषियों के खिलाफ़ कड़ी कार्रवाई हो ताकि भविष्य में कोई ऐसा घृणित काम करने से पहले सौ बार सोचे।

Facebook Comments

Advertisement
Advertisement

Corona Updates

लुधियाना न्यूज़6 hours ago

लुधियाना में वर्करों के लिए 50,000 घर बनाने के प्रोजेक्ट को कैप्टन अमरिंदर सिंह की मंजूरी

औद्योगिक विकास के साथ लुधियाना में दूसरे राज्यों से भारी संख्या में वर्कर भी आए। जहां-जहां उन्हें फैक्ट्रियों में काम...

लुधियाना न्यूज़7 hours ago

रेडीसन ब्लू होटल एमबीडी लुधियाना नवीनीकृत सुरक्षा और स्वच्छता प्रोटोकॉल के साथ होटल खुला

कोविड -19 ने होस्पिटलिटी सेक्टर में नए अवसरों की पेशकश की है। अभूतपूर्व समय से गुज़रने के बाद रेडिसन ब्लू...

student student
पंजाब2 days ago

पंजाब में मिली 15 अक्टूबर से स्कूल खोलने की इजाजत, करना होगा इन नियमों का पालन

पंजाब के स्कूलों को 15 अक्टूबर से फिर से खोलने की गृह विभाग ने इजाजत दे दी है। विभाग के...

लुधियाना सिटी न्यूज़2 days ago

सेहत विभाग की टीम के पहुंचते ही दुकानें बंद कर खिसके दुकानदार, 11 सैंपल भरे

शहर में त्याेहारी सीजन शुरू हाेने के साथ ही सेहत विभाग ने सतर्कता बढ़ा दी है। साेमवार काे जिला फूड...

लुधियाना सिटी न्यूज़2 days ago

लुधियाना के ग्यासपुरा रेलवे फाटक का नवीनीकरण हुआ शुरू, ट्रैफिक समस्या भी हाेगी दूर

ग्यासपुरा रेलवे फाटक का नवीनीकरण शुरू हाे गया है। रेलवे विभाग की ओर से टीम काम करने में जुटी है।...

लुधियाना सिटी न्यूज़2 days ago

PAU की तीनों यूनियनों ने वीसी व रजिस्ट्रार के खिलाफ खोला मोर्चा, की नारेबाजी

पंजाब कृषि विश्वविद्यालय (पीएयू) की तीन यूनियनों ने मंगलवार को अपनी मांगों को लेकर वीसी व रजिस्ट्रार के खिलाफ मोर्चा...

DENGUE-MOSQUITO DENGUE-MOSQUITO
लुधियाना सिटी न्यूज़2 days ago

लुधियाना में डेंगू के मरीज बढ़ने से सेहत विभाग में हड़कंप, कई इलाकों में चेकिंग

शहर में डेंगू के मामले बढ़ने से सेहत विभाग में हड़कंप मच गया है। जिला प्रशासन अाैर सेहत विभाग अभी...

लुधियाना सिटी न्यूज़2 days ago

बदला लेने को 15 हजार में देसी कट्टे लाया, रेकी के बाद जिम से लौट रहे युवक को मारी थी गोली

एक हफ्ता पहले जिम से लौट रहे युवक का अपहरण करने की कोशिश के दौरान गोली मारकर भागने वाले दो...

लुधियाना सिटी न्यूज़3 days ago

शेरपुर पुल पर हादसा, छोटे हाथी टेंपू ने मारी कार को टक्कर, महिला की मौत

शेरपुर पुल पर बहन के पति की 17वीं में शामिल होकर परिवार समेत घर लौट रही महिला की कार को...

लुधियाना सिटी न्यूज़3 days ago

लुधियाना में नौकरी छूटी तो घर में ही छापने लगे नकली नोट, दो दोस्त गिरफ्तार

लॉकडाउन में नौकरी छूटने पर दो दोस्तों ने यूट्यूब (सोशल साइट्स) से नोट छापने का तरीका सीखा और नकली नोट...

लुधियाना सिटी न्यूज़3 days ago

जमालपुर में निजी कंपनी के मैनेजर ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखी हैरान करने वाली बात

जमालपुर के जीटीबी नगर में एक प्राइवेट कंपनी के मैनेजर ने शकी हालातों में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। व्यक्ति...

कोरोना वायरस3 days ago

लुधियाना में कोरोना की रफ्तार थमी, 61 नए मामले आए सामने

जिले में अब कोरोना की रफ्तार थम गई है। अक्टूबर माह से कोरोना संक्रमण के नए मामलों व संक्रमितों की...

NIRMALA SITARAMAN NIRMALA SITARAMAN
देश3 days ago

दशहरा-दिवाली से पहले लाखों कर्मचारियों को मोदी सरकार ने दिया बड़ा तोहफा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने माना है कि महामारी का अर्थव्यवस्था पर प्रतिकूल असर पड़ा है। उन्होंने कहा कि सरकार...

लुधियाना सिटी न्यूज़3 days ago

लुधियाना में 5 किलो गांजा और 15 ग्राम हेराेइन समेत तीन गिरफ्तार

चौबीस घंटों के दौरान पुलिस ने दो जगहों पर कार्रवाई करते हुए तीन तस्करों को गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से...

लुधियाना सिटी न्यूज़3 days ago

लुधियाना में गरजीं आंगनबाड़ी वर्कर्स, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

 आंगनबाड़ी वर्कर्स यूनियन पंजाब ने राज्य महासचिव एवं जिला लुधियाना प्रधान सुभाष रानी की अध्यक्षता में सोमवार सुबह गिल नहर...

Trending